Arijit Singh Biography in Hindi | Success Story | Singer

8

Arijit Singh Biography in Hindi :

Arijit Singh (अरिजीत सिंह) Biography in Hindi | Musical Journey | Success Story | singer | composer

Arijit Singh Biography in Hindi | Musical Journey | Success Story | singer | composer

“Mumbai एक ऐसी जगह है जो की छोटे – छोटे शहरो से आये हुए लोगों से बनी हुई है और ख़ास कर के वे अपना भाग्य आजमाने के लिए यहाँ पर आते है | लेकिन दोस्तों जो सबसे जरुरी होता है, वो है “Hard Work”

ये बोल है युवा दिलों की धड़कन और बॉलीवुड के जाने माने सिंगर अरिजीत सिंह के। जिन्होंने अपनी शानदार गायकी के दम पर म्यूजिक इंडस्ट्री में अपना एक अलग ही पहचान बना लिया है। आज के समय में वे हर डायरेक्टर के फेवरेट सिंगर बन चुके है। और उनकी लोकप्रियता का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते है की मौजूदा समय में शायद ही कोई ऐसी फ़िल्म आती है जिसमे उनका गाना न हो।

लेकिन दोस्तों शुरुआत से ही अरिजीत के लिए यह सब कुछ ऐसा नहीं था | इस मुकाम पर पहुचने के लिए उन्हें दिन रात कड़ी मेहनत और लगन के साथ काम करना पड़ा। शुरुवात में कैसे भी कर के गाने मौका मिला तो कोई ना कोई ऐसी रुकावटे आ गयी जिससे की उनका गाना रिलीज नहीं हो सका | अपने खर्चों को चलने के लिए उन्होंने छोटे छोटे एडवर्टीजमेंट के लिए म्यूजिक भी कंपोज किया |

लेकिन एक बार बॉलीवुड में कदम रखने के बाद उन्होंने कभी भी पीछे मुड कर नहीं देखा | और अपने मेलोडी गानों से सभी का दिल जीत लिया |

Arijit Singh Biography in Hindi (Start) :-

अरिजीत सिंह का जनम पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद के जियागंज में 25 अप्रैल 1987 में हुआ था। उन्होंने अपनी शुरूआती पढ़ाई राजा बिजय सिंह हाई स्कूल से की | अरिजीत सिंह को वेसे तो बचपन से ही म्यूजिक का काफी शौक़ था और इसी शौक़ के चलते उन्हें छोटी उम्र से ही म्यूजिक में ट्रेनिंग दिलवाई गयी।

शुरूआती समय में उन्होंने अपनी मामी और नानी के साथ घर पर ही संगीत सीखी की। और जब थोड़े बड़े हुए तो उन्होंने Hazari भाइयों के Under में संगीत सीखनी शुरू कर दी। जिसमे राजेंद्र प्रसाद हज़ारी ने उनको इंडियन क्लासिकल म्यूजिक सिखाई। वही उनके भाई धीरेन्द्र प्रसाद हज़ारी ने उनको तबला में ट्रेनd किया। साथ ही बिरेन्द्र हजारी से अरिजीत ने Pop Music सीखा।

और जब वो सिर्फ 9 साल के थे तो उनको सरकार की तरफ से इंडियन क्लासिकल म्यूजिक में ट्रेनिंग के लिए scholarship भी मिली। जिसकी वजह से वे क्लासिकल म्यूजिक में महारत हासिल करने में कामयाब रहे। अरिजीत के अनुसार वो अपने स्कूली समय में ठीक ठाक student हुआ करते थे लेकिन वो म्यूजिक को ज्यादा प्रायरटी देते थे।

अरिजीत के कैरियर के अगर शुरुआत की बात जाए तो उन्होंने 18 साल की उम्र मेंfame Gurukul नामक के शो में पार्टिसिपेट किया, जिसमे वे फाइनल तक पहुँच कर छटे नंबर पर रहे। इसी शो के दौरान मशहूर डायरेक्टर संजय लीला भंसाली की नजर अरिजीत सिंह के टैलेंट पर पड़ी | और उन्होंने अरिजीत के अंदर के टैलेंट को पहचान कर अपनी अगली फ़िल्म सावरिया के लिए उनसे “यूँ शबनमी” गाना गवाया।

लेकिन बाद में स्क्रिप्ट में बदलाव हो जाने की वजह से वह गाना रिलीज़ ही नहीं हो सका। आगे चल कर टिप्स कंपनी के हेड “कुमार तौरानी” ने भी अरिजीत को एक एल्बम के लिए Sign किया लेकिन यह एल्बम भी किसी कारण से रिलीज़ न हो सकी। अब ये ऐसा दौर था जब अरिजीत मौके तो मिल रहे थी पर किसी ना किसी वजह से उनके गाने रिलीज़ नहीं हो पा रहे थे | हलाकि इन मुश्किल हालातों में भी अरिजीत ने कभी भी हार नहीं मानी, और अपने टैलेंट पर भरोसा रखा |

आगे चल कर उन्होंने एक और रियलिटी tv शो “10 के 10 ले गए दिल” में पार्टिसिपेट किया। और इस शो को जीतने में कामयाब भी रहे। अब इस शो के जरिये उन्हें जो पैसे मिले, उससे उन्होंने 2006 में मुम्बई के लोखंडवाला जा कर अपना एक रिकॉर्डिंग स्टूडियो बनाया | जहाँ पर उन्होंने म्यूजिक कंपोजर भी करना शुरू कर दिया |

साथ ही थोड़े पैसों के लिए वे वहां छोटे advertisements कम्पनीज के लिए के लिए म्यूजिक बनाया भी करते थे। उन्होंने सबसे पहले तेलुगु फ़िल्म kedi के लिए “Neeve Na Neeve Na” नाम से एक गाना गाया था | जिससे उन्हें ज्यादा प्रशिधि तो नहीं मिल सकी | लेकिन 2011 वो पल आ ही गया जिसका उन्हें लम्बे समय से इन्तजार था |

उन्होंने murder 2 मूवी के “Phir Mohabbat” गाने से अपना बॉलीवुड डेब्यू किया | हालांकि यह गाना रिकॉर्ड तो 2009 में ही कर लिया गया था। गाना लोगों में काफी पॉपुलर हुआ। और अपने पहले ही बालीवुड सोंग से अरिजीत ने लोगों के दिलों में अपनी जगह बनानी शुरू कर दी |

इसके बाद agent Vinod मूवी का Raabta गाना आया जिसने की साबित कर दिया की वे म्यूजिक इंडस्ट्री में काफी आगे तक जाने वाले है | और फिर 2013 में आशिकी 2 मूवी में “तुम ही हो” नाम का गाना आया। और इस गाने से अरिजीत सिंह के आवाज का जादू फिर से लोगो में छा गया |

यह सोंग काफी महीनों तक लोगों के दिलों पर राज करता रहा । और इसके लिए अरिजीत ने कई अवार्ड्स जीते। 2014 में अरिजीत ने अपनी बचपन की दोस्त कोयल रॉय के साथ शादी कर ली | और फिर उनके गानों का शिलशिला भी कभी नहीं रुका | आगे उन्होंने कभी जो बादल बरसे , मुस्कुराने की वजह , नैना , फिर भी तुमको चाहूँगा ,और नशे सी चढ़ गयी जैसे कई और भी सुपरहिट गाने दिए | जिसकी पूरी लिस्ट आप अपने स्क्रीन पर देख सकते है |

अरिजीत ने अपनेम् यूजिकल करियर में A.R. Rehman और vishal-shekhar जैसे बड़े बड़े म्यूजिक कॉम्पोज़र्स के साथ भी काम किया। सिंगिंग के अलावा वे एक NGO “Let there be light” से भी जुड़े है, जिससे माध्यम से वे गरीबों सहायता करते है। अरिजीत सिंह आज न केवल बॉलीवुड बल्कि इंडिया की हर म्यूजिक इंडस्ट्री में धमाल मचाये हुए है। उन्होंने Telugu, Marathi, Gujarati लैंग्वेज में भी गाने गा चुके है |

और दोस्तों उनका गाया हुआ हर गाना लोगों को न केवल लोगों को पसंद आता है बल्कि दिलों को छु जाता है। उम्मीद है की अरिजीत सिंह की यह लाइफ स्टोरी आपको जरुर पसंद आई होगी |

Arijit singh Biography in Hindi (Video) :-

You are reading Arijit singh biography in Hindi and to Read our post about the life of sridevi click Here

Share.

8 Comments

  1. Pingback: Guru Randhawa Biography in Hindi : Life Story - LiveHindi

Leave A Reply